ADVERTISEMENT

Astrology

आओ ज्योतिष सीखें : भृगसहिंता अनुसार जन्म-नक्षत्र और रत्न-रुद्राक्ष (अध्याय 7)

शिवयोगी श्रीप्रमोदजी महाराज : आप अपने जन्म नक्षत्र के अनुसार धारण करे रत्न और रुद्राक्ष अश्विनी नक्षत्र : यदि...

Read more

भृग संहिता में सूर्य एवं बुध ग्रहो का स्वभाव और प्रभाव : शिवयोगी श्रीप्रमोदजी महाराज (अध्याय 4)

सूर्य-ग्रह : यह ग्रह पुरुष जाति , रक्त वर्ण , पित्त प्रकृति , तथा पूर्व दिशा का स्वामी है ||...

Read more

भृगसंहिता द्वारा मंगल-ग्रह का स्वभाव और प्रभाव (अध्याय 3 , शिवयोगी श्रीप्रमोदजी महाराज द्वारा)

मंगल-ग्रह : यह ग्रह पुरुष जाति रक्तवर्ण दक्षिण दिशा का स्वामी अग्नि तत्व वाला पित्त प्रकृति वाला है || यह...

Read more

ज्योतिष सीखें : गुरु होते है शाश्वत (अध्याय २) : शिवयोगी श्रीप्रमोदजी महाराज

शिवयोगी श्रीप्रमोदजी महाराज ये लेख मैं अपने पूज्य श्रीअयोध्या प्रसाद शुक्ला जी के चरण कमलो में...

Read more

भृग-संहिता का जन्म (ज्योतिष ज्ञान (1) शिवयोगी श्रीप्रमोदजी महाराज द्वारा)

प्रियंका शर्मा : एकबार विष्णुजी क्षीर सागर में शेषनाग की शैय्या पर विश्राम कर रहे थे और लक्ष्मीजी पैर दबा...

Read more
Page 16 of 17 1151617