ब्राह्मण समाज ने कहा आरक्षण नहीं तो कम से कम किताबे तो दो

0
433
के के शर्मा, बीकानेर : “सबको शिक्षा, सबका विकास” , बीकानेर ब्राह्मण समाज ने जिला कलेक्टर, संभागीय आयुक्त और मेडिकल कॉलेज प्राचार्य को दिया गया ज्ञापन। सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज बीकानेर में महाविद्यालय द्वारा संचालित की जा रही लाइब्रेरी (पुस्तकालय) से सिर्फ अनुसूचित जाति /जनजाति वर्ग के विद्यार्थियों को ही पढने के लिए पुस्तकें दी जाती है जबकि अन्य जातियो के विद्यार्थियों को वंचित रखा जा रहा है जो कि उचित नहीं कहा जा सकता है।
बीकानेर मेडिकल कॉलेज द्वारा किये जा रहे इस जातिगत भेदवाव के खिलाफ संभागीय आयुक्त, जिला कलेक्टर तथा सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज बीकानेर के प्राचार्य को आज दिनांक 8 सितम्बर 2017 को प्रातः 11 बजे ज्ञापन देकरमांग की गई है कि चिकित्सा जैसे नोबल सेवा क्षेत्र में जातिगत भेदभाव के बीज बोने से भावी डॉक्टरों में वर्गभेद और नस्लीय आक्रोश पनपने का खतरा उत्पन्न हो रहा है। ऐसे नस्लीय भेदभाव को रोकते हुए अनुसूचित जाति/जनजाति के साथ साथ महाविद्यालय में अध्ययनरत सभी वर्गो के विद्यार्थियों को भी लाइब्रेरी से पुस्तकें इशू की जाए अन्यथा शिक्षा प्राप्त करने के संवैधानिक अधिकारों की रक्षा के लिए यह मांग एक आंदोलन का रूप ले लेगी। 
 
ज्ञापन देने वालों में के के शर्मा, शोभा सारस्वत, ओमप्रकाश जोशी, पार्षद भगवतीप्रसाद गौड़, पार्षद राजेन्द्र शर्मा, कामिनी भोजक, देवीलाल पारीक, प्रहलाद जोशी, राजकुमार पारीक, भैरुंरतन जस्सू, लक्ष्मण उपाध्याय, गायत्री प्रसाद शर्मा उपस्थित थे तथा क्षत्रिय सभा के अध्यक्ष बजरंग सिंह रायल तथा श्रीकरनी सेना के के डी सिंह शेखावत ने भी समर्थन दिया है। 
 

Leave a Reply