जानिए आपके घर में कोई नकारात्मक शक्ति या तन्त्र का प्रयोग तो नहीं कर रहा : ब्रह्मचारी वागीश स्वरूप

1
1520
acharya vagish swaroop
ब्रह्मचारी वागीश स्वरूप (काशी)
acharya vagish swaroop
ब्रह्मचारी वागीश स्वरूप (काशी)

घर में नकारात्मक शक्तियां व तन्त्र प्रयोग को जानने के सरल उपाय : 

1 (शाम्भवी प्रयोग)

ये प्रयोग कुछ वर्ष पूर्व श्री निश्चलानंद नाथ जी द्वारा दिया गया था। जो घर या प्रतिष्ठान में मौजूद नकारात्मक शक्तियों का पता लगाने में बेहद प्रभावशाली है।
बहुत से लोगो को शंका होती है उनके घरों में भुत प्रेत या फिर किसी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा है,
जिन्हें अपने घर में किसी साये की मौजूदगी का एहसास होता है या
अकेले होने पर लगता है कि उनके पीछे कोई खड़ा है या फिर गुणी जनो द्वारा ऐसा बताया जाता है ।
ऐसा हो भी सकता है और नहीं भी हो सकता लेकिन प्रामाणिक तौर पर कैसे पता करे की घर में नकारात्मक ऊर्जा है भी या नहीं है..जिन्हें भी ऐसी शंका है वे ये प्रयोग कर के देखे
(माँ शाम्भवी :- माँ शाम्भवी भगवान शिव की मूल शक्ति हैं, वही शिवा हैं, माहेश्वरी हैं।
माँ का स्वरुप और ध्यान
– (आपकी सरलता के लिए हिंदी में)
जो वृषभ वाहन पर आरूढ़ होती हैं, जिनका मुख कमल तीन नेत्रों से सुशोभित है, जिनके मस्तक पर दूज का चन्द्र शोभायमान है। जो अपनी चार भुजाओं में त्रिशूल, डमरू, कमंडल और वरमुद्रा धारण किये हैं।
जीर्ण को नवीन करने वाली, जड़ को चेतन् करने वाली, मूर्छित को चेतना देने वाली, मृत्यु को जीवन में बदलने वाली ऐसी माँ शाम्भवी के श्री चरणों में मैं नमन करता हूँ।)
एक श्रीफल(नारियल) ले लीजिए और उसे दोनों हाथों में रख लीजिए जोर से नहीं पकड़ना है दोनों हाथों की अंजुली जैसा बनाये और उस पर नारियल हो उसके बाद बील्कुल साधारण शब्दो में शांभवी शक्ति का आव्हन उस नारयेल में करे..तीन बार इन शब्दों को दोहराना है..” हे शांभवी शक्ति इस श्रीफल में मै(अमुक) आपका आव्हान करता हु ” ऐसा तीन बार बोलने के बाद माँ शांभवी से प्रार्थना करे की मेरे घर में जो भी नकारात्मक ऊर्जा शक्ति है उसे जानने में संकेत देकर मेरी सहायता करे..अब नारयेल हाथो में इसी प्रकार रखे हुए पूरे घर का चक्कर लगाए एक भी कोना ना छोड़े… यदि आपके घर में ऐसी कोई भी नकारात्मक शक्ति होगी तो नारयेल में हलचल हो जायेगी कई बार नारियल हाथो में खड़ा भी हो जाता है..बील्कुल भी घबराए नहीं आपको या आपके परिवार को कुछ भी नहीं होगा..प्रमाण मिल जाने पर नारियल जल प्रवाह कर दे
2 यदि आपको ऐसा लगता है कि आपके घर, दुकान , व्यावसायिक प्रतिष्ठान पर किसी व्यक्ति ने कोई जादू टोना, टोटका या तंत्र प्रयोग किया है और इस कारण से आप विभिन्न व्याधियों से घिरे हैं या दुखी है तो निम्न प्रयोग करें।
अमावस्या के दिन एक सफेद कपड़े पर सवा मुट्ठी चावल और पानी वाला जटा नारियल और सफेद या पयिले रंग के 5 फूल लेकर एक पोटली बना लें, इसे लेकर पूरे घर में घूमें, प्रत्येक कमरे, रसोई, स्टोर, मुख्य द्वार इत्यादि में और फिर घर के बीचों बीच की जगह पर किसी दिवार पर ये पोटली लटका दें।
अब ये पोटली यूँ ही पूर्णिमा तक लटकी रहने दें। पूर्णिमा के अगले दिन पोटली उतार कर देखें।
यदि पोटली वैसी की वैसी ही है यानि नारियल और चावल सुरक्षित हैं तो आपके घर में कोई भी ऐसा अनिष्ट प्रयोग नहीं हुआ है।( सिर्फ फूल सूख जायेंगे)
किंतु यदि चावलों में बारीक़ कीड़े हो गए हैं, या बदबू आ रही हो या नारियल सड़ने लगा हो तो इसका अर्थ है कि कुछ समस्या अवश्य है।
अपनी पोटली का आंकलन विश्लेषण कर उसे कहीं नदी या तालाब में प्रवाहित कर दें।
फिर किसी उत्तम जानकार से अपनी समस्या का निवारण निराकरण कराएँ।
तो मित्रो ये प्रयोग करे शंका से मुक्त होइए उसके बाद आपका अनुभव जरूर बताएं॥ 

1 COMMENT

Leave a Reply